Breaking News

जन विश्वास यात्रा में मुख्यमंत्री ने बोला सपा बसपा और कांग्रेस पर हमला

वेबवार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/ अजय कुमार वर्मा
महाराजगंज 30 दिसम्बर। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि दंगाइयों को गले लगाने वाले प्रदेश के हितैषी नहीं हो सकते। समाजवादी पार्टी और उससे पहले बसपा व कांग्रेस की सरकारों की यही परिपाटी थी। अराजकता के लिए इन पार्टियों ने प्रदेश को गिरवी रख दिया था। आज कोई उत्तर प्रदेश में दंगा नहीं कर सकता, अराजकता नहीं फैला सकता। सभी दंगाइयों को मालूम है कि दंगा करेंगे तो सात पीढ़ियां भी भरपाई करते-करते थक जाएंगी। आज माफिया के खिलाफ कार्रवाई होती है तो सबसे अधिक पीड़ा इनके सरपरस्त सपा, बसपा व कांग्रेस को होती है।
   मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को महाराजगंज जनपद के फरेंदा में जन विश्वास यात्रा के भव्य स्वागत समारोह को संबोधित कर रहे थे। जयपुरिया स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम के दौरान मुख्यमंत्री ने महाराजगंज जनपद के लिए 437 करोड रुपए की लागत वाली 77 विकास परियोजनाओं का लोकार्पण व शिलान्यास भी किया। अपने संबोधन के दौरान मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पूर्व की सरकारों को कटघरे में खड़ा करते हुए जनता से यह पूछा कि क्या गरीबों की जमीनों पर कब्जा करने वाले, व्यापारियों का अपहरण करने वाले, दंगाइयों को गले लगाने वाले, युवाओं के भविष्य से खिलवाड़ करने वाले आपके हितेषी हो सकते हैं? अपार जनसमूह से एक स्वर में आवाज आई- नहीं। उन्होंने पूर्व की सपा, बसपा व कांग्रेस की सरकारों के शासन और भाजपा शासन की तुलना कर लोगों को फर्क भी समझाया। सीएम योगी ने कहा कि 2014 के पहले देश का वातावरण क्या था यह सबको पता है। 2014 के बाद इसमें व्यापक परिवर्तन आया है।
इस अवसर पर उपमुख्यमंत्री डॉ दिनेश शर्मा, मंत्री जयप्रकाश निषाद, सांसद जगदंबिका पाल, राज्यसभा सदस्य जयप्रकाश निषाद, रविकांत पटेल, बजरंग बहादुर सिंह, जय मंगल कनौजिया, ज्ञानेंद्र सिंह, प्रेम सागर पटेल, भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष डॉ धर्मेंद्र सिंह, जिला अध्यक्ष परदेसी रविकांत आदि की सक्रिय सहभागिता रही।

Check Also

गढ़मुक्तेश्वर में 15.30 लाख की 5100 ग्राम ड्रग बरामद

वेब वार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/अजय कुमार वर्मा लखनऊ। प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी, नवदीप रिणवा ने …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES