Thursday , January 20 2022
Breaking News

योगी ने समीक्षा बैठक में कोविड संक्रमण से उपचार को निरन्तर प्रभावी बनाए रखने के निर्देश दिए

वेबवार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/ अजय कुमार वर्मा
लखनऊ 24 नवंबर। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कोविड संक्रमण से बचाव और उपचार की व्यवस्थाओं को निरन्तर प्रभावी बनाए रखने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा कि कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णतया पालन सुनिश्चित कराया जाए। उन्होंने ट्रेसिंग एवं टेस्टिंग का कार्य सतत जारी रखने के निर्देश दिए हैं।
मुख्यमंत्री आज यहां अपने सरकारी आवास पर आहूत एक उच्चस्तरीय बैठक में प्रदेश में कोविड-19 की स्थिति की समीक्षा कर रहे थे। बैठक में मुख्यमंत्री को अवगत कराया गया कि मुख्यमंत्री अमेठी, अमरोहा, अयोध्या, आजमगढ़, बदायूं, बागपत, बलरामपुर, बांदा, बाराबंकी, बरेली, बस्ती, भदोही, बिजनौर, बुलन्दशहर, चंदौली, चित्रकूट, एटा, इटावा, फतेहपुर, फिरोजाबाद, गोण्डा, हमीरपुर, हरदोई, हाथरस, जौनपुर, झांसी, कासगंज, कौशाम्बी, कुशीनगर, लखीमपुर खीरी, महोबा, मैनपुरी, मऊ, मुरादाबाद, पीलीभीत, प्रतापगढ़, रामपुर, शाहजहांपुर, शामली, श्रावस्ती, सिद्धार्थनगर, सीतापुर, सोनभद्र तथा सुलतानपुर में कोविड का एक भी मरीज नहीं है। प्रदेश में कोरोना संक्रमण की रिकवरी दर 98.7 प्रतिशत है। पिछले 24 घण्टे में प्रदेश में 01 लाख 35 हजार 398 कोरोना टेस्ट किए गए। अब तक राज्य में 08 करोड़ 68 लाख 75 हजार 102 कोविड टेस्ट सम्पन्न हो चुके हैं।
मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड टीकाकरण को और तेज करने के प्रभावी प्रयास किये जाएं। इसके लिए घर-घर जाकर सर्वेक्षण किया जाए। लक्षित आयु वर्ग के जिन लोगों ने अभी तक टीके की खुराक नहीं ली है, उन्हें वैक्सीनेशन के लिए प्रेरित और प्रोत्साहित किया जाए। मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार आमजन को बेहतर चिकित्सीय सुविधाएं मुहैया कराने के लिए प्रतिबद्ध है। इसके दृष्टिगत प्रदेश के 16 जनपदों में पी0पी0पी0 मोड पर मेडिकल काॅलेज संचालित किये जाएंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर को बेहतर बनाने के लिए पूरी प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है। वर्षों बाद उत्तर प्रदेश में 05 हजार नवीन स्वास्थ्य उपकेन्द्र स्थापित किये जा रहे हैं। इससे ग्रामीण क्षेत्रों के लोगों को सुगमतापूर्वक चिकित्सा सुविधाएं प्राप्त होंगी। उन्होंने निर्देशित किया कि स्वास्थ्य विभाग इन सभी केन्द्रों पर चिकित्सीय उपकरण, प्रशिक्षित चिकित्सक व पैरामेडिकल स्टाफ की व्यवस्था सुनिश्चित करे। उत्तर प्रदेश मेडिकल सप्लाइज काॅरपोरेशन सभी सरकारी अस्पतालों में समस्त आवश्यक दवाओं की आपूर्ति सुनिश्चित करे।

Check Also

सिडबी की छोटी एनबीएफसी व माइक्रो फाइनेंस संस्थाओं को मदद

वेब वार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/ अजय कुमार वर्मा लखनऊ 18 जनवरी। भारतीय लघु उद्योग विकास बैंक …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES