Tuesday , May 17 2022
Breaking News

ओपी राजभर ने मार सकते है पलटनी, किया अमित शाह से मुलाकात, 2024 की तैयारी में जुटे, बेटे ने किया खंडन

वेब वार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/ अजय कुमार वर्मा
दिल्ली 19 मार्च। यूपी की राजनीति से जुड़ी बड़ी खबर है। शुक्रवार को होली के दिन सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी (सुभासपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओपी राजभर ने गृहमंत्री अमित शाह से मुलाकात की। करीब एक घंटे चली मुलाकात में केंद्रीय मंत्री और यूपी चुनाव प्रभारी धर्मेंद्र प्रधान, भाजपा के संगठन मंत्री सुनील बंसल भी मौजूद रहे। राजभर ने 2022 का विधानसभा चुनाव सपा के साथ गठबंधन करके लड़ा था। ऐसे में शाह के साथ उनकी इस मुलाकात से सियासी गलियारे में चर्चा शुरू हो गई।
सियासी जानकारों का कहना है कि अगर सब कुछ ठीक रहा तो ओपी राजभर नई योगी सरकार में शामिल हो सकते हैं। यह बात इसलिए भी कही जा रही है, क्योंकि योगी सरकार के शपथ ग्रहण से पहले ही उन्होंने मुलाकात की है। तीन दिन पहले भी ओपी राजभर ने भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात की थी। यानी 4 दिनों में ओपी राजभर दो बार भाजपा के शीर्ष नेतृत्व से मुलाकात कर चुके हैं।
सूत्र बताते हैं कि अमित शाह के सामने राजभर ने अपनी मांग के साथ अपना पक्ष रखा। अब आगे का फैसला शाह और भाजपा के शीर्ष नेतृत्व को करना है। माना यह भी जा रहा है कि दोनों को एक-दूसरे की जरूरत है। क्योंकि पूर्वांचल क्षेत्र में लोकसभा की करीब 26 सीटें ऐसी हैं, जहां राजभर समाज का प्रभाव है। वहीं, 14 लोकसभा सीटें तो ऐसी हैं जहां पर राजभर समाज का वोट नतीजों पर निर्णायक रहता है।
बता दें कि पूर्वांचल के कई जिलों में राजभर समुदाय का वोट राजनीतिक समीकरण बनाने और बिगाड़ने की ताकत रखता है। सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष ओपी राजभर का यूपी के पूर्वांचल क्षेत्र की राजनीति में दबदबा है। 2022 के चुनाव में जहां एक तरफ भाजपा पश्चिम से लेकर अवध तक मजबूत नजर आई। वहीं, पूर्वांचल के चार जिलों में भाजपा का खाता तक नहीं खुला। गाजीपुर, अम्बेडकरनगर, मऊ, बलिया, जौनपुर, आजमगढ़ में भाजपा को सबसे ज्यादा नुकसान हुआ। यूपी में राजभर समुदाय की आबादी करीब 3 फीसदी है, जो सूबे की करीब चार दर्जन विधानसभा सीटों पर असर रखते है।

Check Also

चुनावों में करारी हार के बाद कांग्रेस में कलह मची, आमूलचूल परिवर्तन की मांग

वेब वार्ता (न्यूज़ एजेंसी)/ अजय कुमार वर्मा दिल्ली 17 मार्च। उत्तर प्रदेश, पंजाब समेत 5 …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES